--: वेब संस्थापक सन्देश :--

किसी भी देश ,समाज के विकाश का आंकलन उसके संचार व्यवस्था से होती है। आज विश्व भर में जो प्रगति की क्रांति के दर्शन हो रहे है उसमे इंटरनेट के द्वारा संदेशों के आदान प्रदान की अहम् भूमिका है ।

आज हमारा गहोई वैश्य समाज अन्य वैश्य समाज की तुलना में प्रगति पथ पर हर क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभा रहा है । अपने गहोई समाज के उधोग जगत ,शिक्षा जगत ,व्यापार जगत ,प्रबुद्ध वर्ग ,प्रशासनिक अधिकारी गण,कर्मचारी गण (शासकीय एवं निजी ) हमारे समाज के गोरव युवा वर्ग इंटरनेट के माध्यम से अपने कार्य को एक नया आयाम दे रहे है। आज देश दुनिया में फैले हुए समाज को एक दूसरे से जुड़ा रखने में इंटरनेट सफल माध्यम है। इसी को ध्यान में रखते हुए गहोई समाज इंडिया की टीम ने विचार कर वेब साइड बनाने का निर्णय लिया, उक्त वेबसाइड को बनबाने एवं संचालन करने की जिम्मेदारी के पूर्ण अधिकार चम्बल क्षेत्रीय गहोई वैश्य सभा के अध्यक्ष रमेश बाबू गंधी (यानि कि मुझे) दिए गए। मैंने अपनी पूर्ण जिम्मेदारी निभाते हुए www .gahoi.co.in के नाम से वेब साइड का निर्माण कराया ।

गहोई समाज इंडिया की यह वेब साइड www.gahoi.co.in साधारण हिंदी में बनाई गई गहोई समाज की पहली वेब साइड है । इसमे जो भी जानकारियां दी जा रही है वह सरल भाषा हिंदी में है जो कि समाज के हर व्यक्ति को समझने में सहज होगी । अति सीघ्र हिंदी भाषा के साथ अंग्रेजी भाषा में भी निर्माण कराया जा रहा है जिससे यह सभी वर्ग के लोगों को उपयोगी होगी।

इस वेब साइड के निर्माण का हमारा उद्वेश यह रहा है कि गहोई समाज के व्यक्ति आजीविका हेतु देश एवं विदेश में निवास कर रहे है , परन्तु वहाँ अधिक समाज न होने के कारण उन्हें अपने समाज के संस्कारों एवं समाज में हो रही गतिविधियों की जानकारी नहीं मिल पाती है । यही कारण है कि आज की वर्तमान स्थिति में नव युवक एवं नव युवतियाँ समाज से दूर होते जा रहे है । हमने इस वेब साइड द्वारा यह बताने की कोशिष की है कि जो युवा वर्ग समाज से दूर होता जा रहा है वह युवा वर्ग समाज के हर एक व्यक्ति से आपस में जुडे और उनको समाज के सस्कारों की सम्पूर्ण जानकारी ज्ञात हो ।

इस वेब साइड का उद्वेश लोगों को विवाह की सही और सटीक जानकारी देना , जिसमे वैवाहिक कार्यक्रम सुचारू रूप से संपन्न हो सके ,धन का अपब्यय न हो तथा अमूल्य समय भी बचे तथा सगाई से विदाई तक के प्रत्येक रीति-रिवाज (वैवाहिक कार्यक्रम ) आवश्यक वस्तुओं के साथ किस प्रकार कार्यक्रम को संपन्न करना है दर्शाया गया है । हम वैवाहिक कार्यक्रम को एक सफल कार्यक्रम बनाने को समर्पित है ।

इसमें क्या है और इसका उपयोग कैसे करें ....

वैवाहिक (MATRIMONIAL) - इसके ऊपर क्लिक करने पर पंजीकरण (Registration) , खोजना (Search), परिवर्तन (Modification) खुलेंगे (Open) होंगे । पंजीकरण(Registration) अगर आपको वैवाहिक वायोडाटा अपलोड करना है तो पंजीकरण के ऊपर क्लिक करने पर एक फार्म खुलेगा उस फार्म के अन्दर माँगी गई जानकारी भरना है सम्पूर्ण जानकारी भरने के बाद उस व्यक्ति के एक से लगायत पाँच प्रकार के फोटो अपलोड कर सकते हैं। अगर आपको फोटो डालने में परेशानी आ रही है तो फोटो email -www.gahoiramesh@gmail.com पर भेज सकते हैं।

खोजना (Search) - खोजना (Search) अगर आप युवक या युवती के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो खोजना Search पर क्लिक करने पर जो पेज खुलेगा उसके gender में male या famela जो भी देखना है को सिलेक्ट कर सर्च पर क्लिक करें। वायोडाटा का पेज खुल जावेगा , इनमे से जिस भी वायोडाटा की सम्पूर्ण जानकारी लेना है तो View Profile पर क्लिक करें नया पेज खुलेगा जिसमे पूर्ण जानकारी होगी। फोटो बड़े साइज में देखना तो फोटो के नीचे more पर क्लिक करे फोटो की गैलरी खुल जावेगी ,जिस फोटो को बड़ा कर देखना है उस फोटो पर क्लिक करे फोटो बड़े साइज में दिखेगा।

परिवर्तन (Modification) - अगर आप अपने वायोडाटा में किसी प्रकार का परिवर्तन Modification करना चाहते तो आपको दिए गए आई डी - पासवर्ड डालकर submit करने पर नया पेज खुलेगा जिसमे view registration पर क्लिक करने पर वायोडाटा पेज खुलेगा उसमे दिए गए adit पर क्लिक कर जो भी परिवर्तन करना चाहें ,कर सम्मिट कर दें। change passward पर जाकर आप अपना पासवर्ड बदल सकते है । delete account पर क्लिक कर अपना वायोडाटा शादी (विवाह) हो जाने पर केन्सिल(समाप्त) कर सकते है। लॉग इन आई डी एवं पासवर्ड आपके द्वारा दिए गए मोबाईल नंबर व ईमेल आई डी के द्वारा भेज दी जाती है। अगर इस सम्बन्ध में आपको किसी भी प्रकार की जानकारी लेनी है तो सुझाव ( Suggestion) में टायप कर पूंछ सकते हैं।

पारिवारिक परिचय क्यों - पारिवारिक परिचय क्यों :- इस वेबसाइड के अन्दर दिए गए पारिवारिक में अपने परिवार के सभी सदस्यों का पंजीकरण करना अति आवश्यक है। क्यों कि - आपको जानकारी होगी कि अपने पूर्वजों का व्यवसाय खेती (कृषि) एवं दुकानदारी तक सीमित था। पहले बच्चों की शिक्षा 5 एवं 7 वर्ष से शुरू होती थी। पूर्वजों का सोच भी यही रहता था कि क्या करेंगे पढ़ा कर करना तो खेती व दुकानदारी ही है। इस कारण सभी लोग एक साथ मिलकर रहते थे जिससे समाज में होने वाले कार्यक्रमों एवं रीति-रिवाजों व रिश्तेदारों से परिचित रहते थे। लेकिन आज इसके बिल्कुल विपरीति है। आज बच्चे को ढाई वर्ष कि उम्र से स्कूल भेज दिया जाता है।बच्चों को उच्च शिक्षा दिलाने हेतु माता -पिता अपना तन -मन -धन सब कुछ लगा रहे है। उसका परिणाम यह है कि गहोई समाज जहाँ पहले शिक्षा में सबसे पीछे था वो आज वैश्य समाज में सबसे आगे है। परन्तु समाज ने आज कुछ पाया है तो कुछ खोया भी है। आज के युवा उच्च शिक्षा प्राप्त कर बड़े -बड़े पदों पर सर्विस कर व उधोगपति बनकर महानगरों एवं विदेशों में निवास कर रहे है। वहां गहोई समाज न होने के कारण उनको समाज में होने वाली गति विधियों एवं नाते रिश्तेदारों के संबंधों के बारों से अपरिचित रहने के कारण भ्रमत है। इसी का परिणाम है कि आज का युवा वर्ग अंतरजातीय संबंधों में रूचि रखने लगा है । गहोई समाज इंडिया की टीम ने इस वेबसाइड के माध्यम से युवा वर्ग को जोड़ने एवं संस्कारों से अवगत कराने का प्रयास किया है। अब जरुरत है, आप सभी के सहयोग की। आप सभी अपने -अपने परिवार के समस्त सदस्यों की जानकारी सम्मिट करें व रिश्तेदारों को जोड़े | जिससे युवा वर्ग अपने रिश्तेदारों. के बारे में जान सकें।

पंजीकरण(Registration) - इस पर क्लिक करने पर एक फार्म खुलेगा इस फार्म में परिवार के मुखिया का पूर्ण विवरण भरना है उसके आगे image [choose File] पर क्लिक कर मुखिया का फोटो अपलोड कर सम्मिट करना है । फार्म सम्मिट के बाद एक नया फार्म खुल जावेगा इस फार्म में परिवार के अन्य सदस्यों की जानकारी भरना है । फार्म सम्मिट करने पर हर बार नया फार्म खुलेगा जिसमे आप बारी -बारी से परिवार के सदस्यों की जानकारी भरते रहे । परिवार के सभी सदस्यों की जानकारी भरने के बाद वापिस मुख्य प्रष्ठ पर आ जावें ।

खोजना (Search) - इसके ऊपर क्लिक करने पर एक पेज खुलेगा जिस पर कई फील्ड दी हुई हैं आप इनमे से किसी एक फील्ड को सिलेक्ट कर सर्च (Search) पर क्लिक करें । आपने जिस फील्ड को सिलेक्ट किया था उस फील्ड के सभी परिणाम (Result) आ जावेंगे । अब आप आये हुए रिजल्ट में से जिस किसी के बारे में पूर्ण विवरण (Details) एवं रिश्तेदार के बारे में जानना चाहते तो View Head पर क्लिक करे। अगर आप उनके परिवार के अन्य सदस्यों के बारे पूर्ण में जानकारी जानना चाहते हैं तो view family पर क्लिक कर प्राप्त कर सकते हैं ।

परिवर्तन (Modification) - अगर आप अपने वायोडाटा में किसी प्रकार का परिवर्तन Modification करना चाहते तो आपको दिए गए आई डी - पासवर्ड डालकर सम्मिट करने पर नया पेज खुलेगा जिसमे family registration पर क्लिक करने पर leader information का पेज खुलेगा उसमे दिए गए adit पर क्लिक कर जो भी परिवर्तन करना चाहें ,कर सम्मिट कर दें । आप परिवार के अन्य सदस्यों के डाटा में परिवर्तन करना चाहते हैं तो family completelnfo पर क्लिक करने पर परिवार के सदस्यों की लिस्ट आ जावेगी । अब आप जिस सदस्य के डाटा में चेन्ज करना चाहते हैं उसके सामने दिए गए view पर क्लिक करेगें वैसे
ही एक नया पेज खुलेगा उसमे दिए गए adit पर क्लिक करे उस ब्यक्ति का डाटा खुल जावेगा उसमे जो भी परिवर्तन करना चाहे कर सम्मिट कर देवे । अगर आप किसी नए सदस्य को जोड़ना चाहते है तो other family information पर क्लिक करने पर नया फार्म खुल कर आ जावेगा उसमे आप कोई भी नया डाटा अपलोड कर सम्मिट कर देवे । चेन्ज पासवर्ड में जाकर आप अपना पासवर्ड चेन्ज कर सकते हैं। आप अपने रिश्तेदारों को अपने साथ जोड़ना चाहते है तो add relations पर क्लिक कराने पर नया पेज Add Family Relationship के नाम का खुलेगा । आप अपने परिवार के प्रत्येक सदस्य के रिस्तेदार जोड़ सकते है । आप जिस रिस्तेदार को जोड़ रहे है उसका logan id नंबर पहले से लिखकर रखे ,क्यों कि जिस भी रिस्तेदार को जोड़ना है logan id नंबर डालकर add relations पर क्लिक करना होगा । लॉग इन आई डी एवं पासवर्ड आपके द्वारा दिए गए मोबाईल नंबर व ईमेल आई डी के द्वारा भेज डी जाती है। अगर इस सम्बन्ध में आपको किसी भी प्रकार की जानकारी लेनी है तो सुझाव ( Suggestion) में टायप कर पूंछ सकते हैं।

संशाधन (Resources) - इसके अन्दर गहोई समाज की धर्मशाला एवं मंदिर की जानकारी दी गई है ।

प्रकाशन (Publication) - इसके अन्दर गहोई समाज की धर्मशाला एवं मंदिर की जानकारी दी गई है ।
गहोई वैश्य समाज द्वारा अन्य प्रकाशित मासिक पत्रिका
गहोई वैश्य समाज द्वारा प्रकाशित " स्मारिका " (Souvenir)

फोटो दर्शिका (Photo Gallery) - इसके अन्दर गहोई समाज की धर्मशाला एवं मंदिर की जानकारी दी गई है ।
चम्बल क्षेत्रीय गहोई वैश्य Social Officer सभा द्वारा होने वाले कार्यक्रमों की झलिकियाँ
अन्य क्षेत्रीय सभाओं एवं पंचायतों द्वारा होने वाले विशेष कार्यक्रमों की झलिकियाँ

पदाधिकारी (Social Officer) - अखिल भारतीय गहोई वैश्य महासभा की समस्त कार्यकारिणी के पद ,नाम ,पता ,मोबाइल नं.,मयफोटो के
चम्बल क्षेत्रीय गहोई वैश्य सभा की समस्त कार्यकारिणी के पद ,नाम ,पता ,मोबाइल नं.,मयफोटो के
अन्य क्षेत्रीय सभाओं की समस्त कार्यकारिणी के पद ,नाम ,पता ,मोबाइल नं.,मयफोटो के
पंचायतों के अध्यक्ष एवं मंत्री के पद ,नाम ,पता ,मोबाइल नं.,मयफोटो के

राष्ट्रकवि साहित्य - राष्ट्रकवि डॉ. मैथिली शरण गुप्त की जीवनी एवं उनके द्वारा रचित काव्य व रचनाओं के अंश दिए गए हैं ।
गहोई वैश्य समाज के अन्य कवियों की जानकारी व उनके द्वारा रचित रचनाओं की जानकारी

चम्बल क्षेत्रीय सभा का इतिहास - यह मुख्य प्रष्ठ पर welcome to Gahoi Samaj India के नीचे "आगे पढ़े " पर क्लिक कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।

ध्वज गीत - यह मुख्य प्रष्ठ पर welcome to Gahoi Samaj India के नीचे "आगे पढ़े " पर क्लिक कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।

ताजा खबर ( Latest news) - गहोई वैश्य समाज में होने वाले कार्यक्रम ,घटनाओं आदि की जानकारी मय फोटो के उसी दिन जानकारी मिलेगी ।

वीडियो ( Video) - गहोई वैश्य समाज में होने वाले कार्यक्रमो की विडियो देख सकते हैं ।

संस्कार (Sacrament)

  1. गहोई समाज के गोत्रानुसार आंकने
  2. आंकने एक से अधिक गोत्र में
  3. जन्म, विवाह एवं मृत्य सम्बन्धी संस्कार कार्यक्रम कैसे किये जाते हैं और क्या -क्या लगता है सम्पूरण विवरण दिया गया है ।
  4. महासभा से सम्बंधित जानकारी
  5. महिला जगत - महिलाओं के लिए जानकारी
  6. तीज - त्यौहार :- वर्ष में होने वाले तीज -त्यौहार एवं अन्य जानकारियां उपलब्ध
  7. सामान्य ज्ञान -
  8. भजन आरती एवं अन्य धार्मिक जानकारी
  9. मनोरंजन - कहानियां - चुटकले आदि, और भी बहुत कुछ

वेब साइड में लिखित सभी सामग्रियां - (लेख ,तस्वीरें ) जानकारियां इत्यादि संग्रह किये हुए है ,जो विभिन्न सामाजिक पत्रिकायों अन्य पत्रिकायों ,समाचार पत्रों ,किताबों , वेब साईडों और ब्यक्तियों से संग्रहित किये गए है। www.gahoi.co.in किसी भी सामग्री पर मोलिकता का दावा नहीं करता ।

All rights reserved @ Gahoi Samaj India