ताजा खबर / Latest News

 
अ.भा.गहोई वैश्य महासभा की द्विततीय कार्यकारिणी बैठक गहोई भवन चित्रकूट

चित्रकूट- अखिल भारतीय गहोई वैश्य महासभा की द्वितीय कार्यकारिणी बैठक गहोई भवन चित्रकूट में दिनांक 03 मई को सम्पन्न हुई। प्रात: 10.30 पर राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कैलाशनारायण सावला की अध्यक्षता में प्रारभ्भ हुई। बैठक में महासभा के शीर्ष पदाधिकारियों द्वारा दीप प्रज्जवलन व कामतानाथ जी महाराज के जयकारे के साथ राष्ट्रकवि मैथिलीशरण गुप्त के चित्र पर माल्यार्पण कर महासभा ध्वजगीत का गायन श्री हरनारायण रिखोल्या संपादक गहोई बंधु के द्वारा कराया गया तदुपरांत महासभा महामंत्री श्री सतीश महतेले द्वारा निर्धारित विषय सूची अनुसार बैठक संचालन प्रारभ्भ किया गया। सभी महासभा पदाधि‍कारियों, पूर्व अध्यक्ष माननीय श्री शि‍वनारायण सुहाने- भोपाल, श्री बैजनाथ प्रसाद नगरिया- गाडरवारा, श्री राधेश्याम कुचिया- ग्वालियर सहित आमंत्रित सदस्यों व चित्रकूट कर्वी पंचायत अध्यक्ष श्री पहारिया जी का रोरी कुमकुम अक्षत से तिलक लगाकर स्वागत अभिनन्दन कियागया। 
महासभा की प्रथम कार्यकारिणी बैठक शिवपुरी दिनांक 01 फरवरी 2015 कार्यवाही की पुष्टि महामंत्री द्वारा गहाई बंधु में प्रकाशि‍त आधार पर परंपरा अनुसार करतल ध्वनि से कराये जाने पर महासभा कोषाध्यक्ष श्री राकेश लहारिया ने आपत्ति प्रकट की एवं सुझाव दिया कि तीन माह पहले हुई बैठक में क्या हुआ, क्या बंधु में प्रकाशि‍त हुआ? इतना याद रखना संभव नहीं है अतएव प्रमुख बिंदुओं का वाचन कर कार्यवाही की पुष्टि करवाना चाहिये, इस पर उपस्थित सदस्यों द्वारा भी सहमति व्यक्त की गई। 
अध्यक्षीय उदबोधन में राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कैलाशनारायण सावला ने विगत बैठक के संकल्पों को पुन: स्मरण कराते हुए कहा कि महासभा का उद्देश्य है ‘सबका साथ समाज का विकास’। सभी पदाधि‍कारियों को जो दायित्व सौंपे गये हैं उन पर गम्भीरता से काम में जुट जावें तथा कार्यकारिणी बैठक में अपने दायित्वों से संबंधि‍त प्रगति प्रतिवेदन लिख‍ित में देवें। पदाधि‍कारियों के मनोनयन काम के आकलन, बैठकों में उपस्थिति या महासभा विरोधी गतिविधियों में संलग्न पाये जाने पर परिवर्तित भी किये जा सकते हैं। महासभा में उद्योग व्यापार, शिक्षा, स्वास्थ्य, परिवार समन्वय जैसे नये प्रकल्पों  के सृजन का प्रस्ताव दिया गया जिस पर मिलीजुली प्रतिक्रियाऐं सामने आई जैसे कि गहोई ग्लोबल के अंतर्गत उद्योग व्यापार, छात्रवृत्तियों के साथ शि‍क्षा, और पारिवारिक संबंधों के समन्वय को न्याय प्राधि‍करण के समान अर्थों में समाहित कर देखा जावे तो नये प्रकल्पों की आवश्यकता नहीं है। पहिले भी गहोई ज्ञानगंगा, अन्नपूर्णा योजना महासभा द्वारा प्रस्तावित की गई थीं परंतु उनपर कोई खास उपलब्धि पूर्ण कार्य नहीं हो सकी । महासभा के अधि‍वेशन हेतु स्थल का चयन देश अथवा प्रदेश की राजधानी अर्थात दिल्ली या भोपाल में किया जावे जिससे समाज को राजनैतिक लाभ मिल सके। अधि‍वेशन में लगभग 5000 स्वजातीय बंधुओं की उपस्थि‍ति सुनिश्चि‍त करने हेतु अध्यक्ष जी द्वारा आश्वस्त किया गया। 
वर्ष 2015-16 का अनुमानित आय व्यय बजट महासभा कोषाध्यक्ष श्री राकेश लहारिया द्वारा प्रस्तुत करते हुए अवगत कराया गया कि निवर्तमान कोषाध्यक्ष श्री राजेन्द्र नीखरा द्वारा अब तक पूरा चार्ज प्रभार नहीं सौंपा गया है। इस पर निवर्तमान राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री राधेश्याम कुचिया ने चुटकी लेते हुए श्री लहारिया से कहा क‍ि श्री नीखरा आपके मित्र हैं और आप लोग पास-पास ही रहते हैं फिर इतनी देर तो नहीं लगना चाहिये एफ.डी., बैक पासबुक एवं अन्य दस्तावेज की औपचारिकताऐं पूर्ण कर उनसे आपसी चर्चा कर प्राप्त कर लेवें। इस पर श्री लहारिया जी ने स्पष्ट किया कि मित्रता अपनी जगह है और महासभा कोषाध्यक्ष के प्रभार प्राप्त करने की विधि‍क प्रकिया अपनी जगह। 
महासभा महामंत्री द्वारा महासभा के अधिवेशन पर चर्चा प्रस्तावित की गई इस पर डॉ. गोविंददास बरसैंया एडवोकेट, जबलपुर ने अपने प्रभावी उद्वबोधन में आयोजन के भव्य स्वरूप और उपस्थिति आदि बिंदुओं पर सुझाव दिये। निर्वाचन उपायुक्त- श्री कैलाशनारायण कनकने,विदिशा ने राष्ट्रीय अध्यक्ष पद की गरिमा की ओर सभी का ध्यान आकृष्ट कराते हुए सुझाव दिया कि पिछली बैठक कार्यवाही के मुख्य बिंदुओं का वाचन किया जावे तब पुष्टि कराई जावे तो उचित होगा। महासभा कार्यकारिणी बैठक में सभी क्षेत्रीय सभा के अध्यक्ष एवं मंत्री की आवश्यक रूप से उपस्थि‍ति होना चाहिये। नये प्रकल्पों के सृजन पर आपने सुझाव दिया कि जो प्रकल्प पहिले बनाये गये हैं उनकी संख्या अभी 11 है परंतु 2 या 3 प्रकल्प ही काम कर रहे हैं बाकी सिर्फ नाम के लिये हैं इन में कोई काम नहीं हो रहा फिर और नये प्रकल्पों का सृजन उचित प्रतीत नहीं होता। अध‍िवेशन के स्थान का चयन भोपाल किये जाने पर श्री कनकने ने कहा कि अभी मध्यमालवा क्षेत्रीय सभा के नवनिर्वाचित पदाधि‍कारियों व पंचायत के साथ आपस में निर्णायक चर्चा कर 10 मई तक हम महासभा को अवगत करा देने का प्रयास करेंगे। कोषाध्यक्ष द्वारा प्रस्तुत आय व्यय के पत्रक कार्यकारिणी में वितरित करने का सुझाव देते हुए आपने कहा कि गहोई बंधु और महासभा का आय व्यय विवरण प्रथक प्रथक बनाना व प्रस्तुत किया जाना चाहिये ऐसा प्रस्ताव महासभा द्वारा पारित किया जा चुका है जिसका पालन होना चाहिये।
महामंत्री ने श्री कैलाश नारायण कनकने के उद्वबोधन पर धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि सदस्यों ने सोचा था कि आप निर्वाचन उपायुक्त के रूप में नवयुवक मण्डल, महिला सभा एवं वरिष्ठ संघ के निर्वाचन संबंधी उत्सुकताओं के संबंध में अपना वक्तव्य देंगे। जनगणना प्रकल्प के अध्यक्ष श्री के.के.कठिल, टीकमगढ ने राष्ट्रीय अध्यक्ष महासभा से जानना चाहा कि-  यदि मेरे दीर्घ अनुभव का लाभ महासभा उठाना चाहती तो मुझे जनगणना प्रकल्प के स्थान पर राजनैतिक प्रकल्प दिया जा सकता था परं‍तु आपने संभवत यह विचार कर मुझे जनगणना जैसा असाधारण कार्य सौंपा है कि असाधारण व्यक्तित्व के लोग ही असाधारण काम कर पावेंगे, इसके लिये धन्यवाद। श्री कठिल ने विंध्य क्षेत्रीय सभा के अध्यक्ष श्री आलोक टिकरया एवं उनकी टीम के विंध्य क्षेत्रीय स्मारिका 2014 के प्रकाशन को अनुकरणीय बताते हुए इस एक क्षेत्र की जनगणना होने पर प्रसन्नता व्यक्त की और बाकी नौ क्षेत्रों की जनगणना भी शीघ्र किये जाने का संकल्प लिया। 
डॅा. श्री कृष्णकुमार हॅूका जबलपुर ने महासभा अध‍िवेशन की व्यवस्थाओं को कार्ययोजना बनाकर समुचित रूप से संपादित किये जाने का सुझाव दिया एवं एक संस्था द्वारा  संचालित विभि‍न्न उद्यमों के आय व्यय प्रथक प्रथक बना कर समेकित किये जाने की संवैधानिक प्रक्रि‍या की जानकारी देते हुए महासभा एवं गहोई बंधु का आय व्यय अलग अलग प्रस्तुत करने की आवश्यकता पर बल दिया। 
महाकौशल क्षेत्रीय सभा के अध्यक्ष श्री विनोद त्रि‍सोल्या कटनी ने महासभा से अपेक्षा व्यक्त की कि कार्यकारिणी बैठकों में गहोई बंधु व महासभा की ही चर्चा हमेशा होती है इससे हटकर भी गहोई समाज के लिये हमें चिन्तन करना चाहिये क्योंकि समाज में अन्तर्जातीय विवाह बढ रहे हैं, इस पर महामंत्री श्री सतीश महतेले ने कहा कि अभी विषय सूची अनुसार कृपया महासभा अधि‍वेशन के संबंध में ही अपने विचार- सुझाव रखें। 
श्री अरूण नीखरा जबलपुर ने अधि‍वेशन के पहिले लक्ष्य बनाकर महासभा व गहोई बंधु की सदस्यता बढाने का सुझाव दिया। महासभा में विवादास्पद मुद्दों को भी अधि‍वेशन के पहिले सुलझाने की सलाह देते हुए नाथूराम मोतीलाल सोनी अनाथालय ट्रस्ट, जबलपुर जैसे अन्य प्रकरणों पर प्रभावी कार्यवाही कर विवादों का पटाक्षेप करने की बात कही। उचित होगा कि अधि‍वेशन संबंधी लगातार चर्चा व निर्णय करने हेतु एक समिति बना दी जावे।  
गहोई कल्याण कोष प्रकल्प के अध्यक्ष श्री योगेश नौगरैया- भोपाल, संगठन मंत्री सतीश सेठ- जबलपुर, कार्यकारी अध्यक्ष श्री भोगीलाल बिलैया- करैरा, उपाध्यक्ष श्री कैलाशनारायण सुहाने- भोपाल इत्यादि वक्ताओं ने महासभा अध‍िवेशन के संबंध में बैठक को संबोधि‍त कर सुझाव रखे। 
राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री सावला ने आश्वस्त किया कि अधि‍वेशन आयोजित करने की स्थिति में पंचायत अथवा क्षेत्रीय सभा को महासभा आर्थि‍क सहयोग प्रदान करेगी यदि स्मारिका निकालने की जिम्मेदारी महासभा लेगी तो 40 प्रतिशत सहयोग आप स्थानीय स्तर से देवें और यदि स्थानीय पंचायत अथवा क्षेत्रीय सभा स्मारिका निकालती है तो व्यय का 25 प्रतिशत सहयोग महासभा देगी इसके अतिरिक्त भी मैं स्वयं अपने स्तर पर पूरे देश में भ्रमण कर लगभग दस लाख रूपये की आर्थि‍क व्यवस्था जुटाने अधि‍क से अध‍िक सहयोग का प्रयास करूंगा। 
 महामंत्री श्री सतीश महतेले ने खेद सहित अवगत कराया कि महासभा कार्यकारिणी में 2 साथि‍यों को मनोनीत कर शि‍वपुरी में 01 फरवरी को शपथ दिला दी गई है और संज्ञान में आया है कि वे महासभा के सदस्य नहीं हैं। ऐसी स्थि‍ति में मैं चाहता हॅू कि उन साथि‍यों का पद पर सम्मान बना रहे और जो त्रुटि हुई है उसे सुधारते हुए उन दोनों साथ‍ियों को अब महासभा का सदस्य बना लिया जावे। 
  कर्बी चित्रकूट पंचायत द्वारा गहोई भवन (धर्मशाला) नयागॉव, चित्रकूट के संबंध में आर्थि‍क अनियमितता एवं छिन्न भिन्न हो रही व्यवस्थाओं पर महासभा से स्थिति स्पष्ट करने आवश्यक सुधार करने एवं उचित जॉच करने की मॉग की। इस पर राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पॉच सदस्यों की एक सम‍िति बनाकर महासभा की ओर से जल्दी ही व्यवस्थाओं को दुरूस्त करने एवं समस्याओं के निदान का आश्वासन दिया।
  गाडरवारा में गहोई वैश्य समाज पंचायत के अधीन कार्यरत श्री देवराधावल्लभ मंदिर ट्रस्ट के जीर्ण शीर्ण हो चुके 125 साल पुराने मंदिर को भव्यता प्रदान करते हुए अत्यंत मनोहारी आकर्षक निर्माण श्री बसंत तपा के मंदिर ट्रस्ट अध्यक्षीय कार्यकाल में होने पर 24, 25, 26 अप्रेल को भव्य शोभायात्रा उपरांत बैकुण्ठधाम में भगवान का प्रवेश उत्सव नगरभोज के साथ संपन्न हुआ इस अनुकरणीय कार्य के लिये श्री बसंत तपा को पुष्पमाला पहिना कर महाकौशल के अन्य उपस्थित सदस्यों का अभिनन्दन महासभा की ओर से किया गया। 
राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री सावला व निर्वाचन उपायुक्त द्वय श्री कैलाशनारायण कनकने,श्री दीपक अरूसिया ने उपाध्यक्ष श्री कैलाश नारायण सुहाने भोपाल सहित अन्य जिन पदाधि‍कारियों ने अब तक शपथ नहीं ली थी और शेष मनोनीत एवं आज मनोनीत हो रहे सदस्यों को भी महासभा कार्यकारिणी में सम्मिालित होने पर शपथ ग्रहण करवाई। 
क्षेत्रीय सभाओं की ओर से क्रमश: विंध्य क्षेत्रीय गहोई वैश्य सभा के अध्यक्ष श्री आलोक टिकरया छतरपुर, च्रंबल क्षेत्रीय गहोई वैश्य सभा के अध्यक्ष के श्री केशव नीखरा, महाकौशल क्षेत्रीय गहोई वैश्य सभा के अध्यक्ष  श्री विनोद त्रि‍सोल्या कटनी, मध्य मालवा क्षेत्रीय गहोई वैश्य सभा के अध्यक्ष श्री विनोद कुमार झुडेले चौरासी क्षेत्रीय गहोई वैश्य सभा के अध्यक्ष एवं उत्तर क्षेत्रीय गहोई वैश्य सभा द्वारा प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए अपने अपने क्षेत्रों में हुए विकासमूलक कार्यों से अवगत कराया। विंध्य क्षेत्रीय गहोई वैश्य सभा की प्रकाशि‍त स्मारिका 2014 का वितरण अध्यक्ष श्री आलोक टिकरया द्वारा सभी को किया गया जिसमें क्षेत्र की महत्वपूर्ण जानकारियों का प्रथम बार ऐसा संकलन पाकर सभी ने इसे सराहनीय बताया। विषय सूची के अनुसार क्षेत्रीय सभाओं का प्रभार जिन  महासभा पदाधिकारियों को सौंपा गया है उनकी ओर से प्रतिवेदन नहीं प्रस्तुत किया जा सका। हरिद्वार ट्रस्ट के संबंध में श्री राधेश्याम कुचिया निवर्तमान महासभा अध्यक्ष ने स्पष्ट किया कि यह महासभा से प्रथक ट्रस्ट है तथा सामाजिक बंधुओं से सहयोग लेकर ही समाज का भवन नि‍र्माण होगा जिस पर ट्रस्ट का स्वामित्व रहेगा वैसे भी जब तक भवन नि‍र्माण नहीं हुआ इस पर अनावश्यक महासभा की बैठक में चर्चा करना उचित नहीं है बाद में जैसा ट्रस्टियों का अभि‍मत होगा सलाह लेकर ही इस पर निर्णय किया जावेगा। श्री राकेश लहारिया, डॉ. गोविंद दास बरसैंया, श्री कैलाश नारायण सुहाने, श्री सतीश सेठ, श्री जगदीश शरण दमेले आदि ने इस संबंध में अपने विचार रखे। अधि‍कांश सदस्यों का यह मानना था कि अ.भा.गहोई वैश्य महासभा के स्वामित्व में ही हरिद्वार की जमीन –भवन होना चाहिये। 
बिंदु क्रमांक 12 के तहत आये पत्रो पर चर्चा की गई महामंत्री ने अक्षय निधि‍ से सहयोग प्राप्तिय के लिये आये आवेदन रखे जिन पर प्रावधान अनुसार यथा उचित राशि‍ की स्वीकृति प्रदान की गई। गहोई वैश्य वरिष्ठ संघ जबलपुर इकाई के आयोजन दिनांक 12 अप्रेल एवं प्रकाशि‍त मासिक पत्रि‍का गहोई संस्कार के संबंध में महासभा को प्राप्त पत्र पर श्री हरनारायण रिखोल्या संपादक गहोई बंधु, डॉ. गोविंद दास बरसैंयाआदि द्वारा भी अपने विचार रखे गये तथा नि‍र्णय अनुसार निं‍दा करते हुए महासभा की ओर से पत्र लिखकर गहोई वैश्य वरिष्ठ संघ जबलपुर इकाई को नि‍र्णय प्रेषित कर दिया जावेगा। अन्य विषयों के तहत श्री शिवकुमार नीखरा गाडरवारा ने आपत्त करते हुए गहोई बंधु में प्रकाशि‍त स्वामी अखि‍ल भारतीय गहोई वैश्य महासभा व प्रकाशक तथा मुद्रक का नाम क्या पूर्व अध्यक्ष का प्रकाशि‍त होना चाहिये या वर्तमान महासभा अध्यक्ष का?  इस पर उपस्थित पदाधि‍कारियों एवं सदस्यों से पूछा क‍ि क्या यह नियमानुसार उचित है सभी ने एक स्वर से इसे नकारते हुए कहा कि वर्तमान अध्यक्ष श्री सावला जी ही महासभा के स्वामी हैं नियमानुसार उनका नाम ही प्रकाशक तथा मुद्रक के रूप में प्रकाशि‍त होना विधि‍संगत होगा इस पर सर्वसम्मत‍ि है।
आभार प्रदर्शन के साथ राष्ट्रीय अध्यक्ष की सहमति प्राप्त कर महामंत्री ने बैठक समाप्ति की घोषणा की ।
सतीश सेठ ,जबलपुर 
संगठन मंत्री महासभा 

गहोई वैशय समाज थाटीपुर का होली मिलन समारोह

18-March-2017 गहोई वैशय समाज थाटीपुर का होली मिलन समारोह मयूरेशवर मंदिर थाटीपुर पर आयोजित किया गया।कार्यक्रम का शुभारंभ राष्ट्रीय कवि डाॅ. मैथलीशरण गुप्त जी के चित्र पर माला अर्पण एंव दीप प्रजिवलित कर  किया गया।कार्यक्रम मे होली के गीत व राधेकृष्ण जी के गीत व भजन गायक के द्वारा गाये गये।आये हुये सभी सममानीय बनधूजनों का तिलक लगाकर स्वागत किया गया। फूलों से होली खेली गई।होली खेलने के बाद ठंडाई एंव नाशता भी सभी ने ग्रहण किया। वरिष्ठ महिला एंव पुरूष जनों का सम्मान भी किया गया।    कार्यक्रम मे पूर्व राषटीय अधयक्ष एंव  *गहोई दर्शन पत्रिका* *के राधेश्याम कुचिया जी , राषटीय उपाध्यक्ष सतीश सुहाने जी, जे पी गहोई जी , चंबल के अधयक्ष केशव नीखरा जी , चंबल मंत्री प्रेम नारायण खंताल जी, डाॅ. बी पी निगोतिया जी , थाटीपुर के अधयक्ष सुरेश निगोती जी , मंत्री सुमन रूसिया जी, कोषाध्यक्ष ब्रिजेश बिलैया जी, महिला मंडल गवालियर की अधयक्ष रामवती रेजा जी, महिला मंडल थाटीपुर की  अधयक्ष पंसारी जी, मंत्री नीलम रेजा , कोषाध्यक्ष प्रीति निगोती जी, अवनीश सेठ (वीरू) जी, राजीव कंथरिया जी , ओम नारायण नगरिया जी, राधेश्याम खंताल जी, आर एस छिरौलिया जी, के एन सरावगी जी, सुशील रेजा जी, आंनद बिहारी कुरेले जी , राजेश कुदरिया जी, राकेश पहाडिया जी ,नवयुवक मंडल थाटीपुर से रामेनद्र नगरिया , सौरभ कुचिया , पारस नौगरइया उपस्थित थे।सभी ने एक दूसरे से गले मिलकर होली की बधाई एंव शुभकामनाएँ दी

मुरार गहोई दर्पण परिवार परिचय पत्रिका का भव्यता के साथ विमोचन/लोकार्पण संपन्न

ग्वालियर - गहोई वैश्य प्रगतशील समाज मुरार की बहु प्रतीक्षित " परिवार परिचय पत्रिका " का लोकार्पण दिन्नांक 19 नवम्बर 2016 शनिवार को श्री कृष्ण वाटिका, शहीद गेट, सेठी पेट्रोल पम्प के पास मुरार में मध्य प्रदेश शाशन के यशस्वी उच्च शिक्षा लोकसेवा प्रबंधन एवं जन शिकायत निवारण मंत्री मा. श्री जयभान सिंह जी पवैया के विशिष्ट आतिथ्य में उनके कर कमलो से, कार्यक्रम की अध्यक्षता श्री कैलाश नारायण सावला (राष्ट्रीय अध्यक्ष महासभा) एवं साथ ही अन्य मंचासीन पदाधिकारी श्री राधेश्याम कुचिया (निवर्तमान राष्ट्रीय अध्यक्ष महासभा), श्री केशव नीखरा (अध्यक्ष च. क्षे. सभा), श्री ओमप्रकाश डेंगरे (अध्यक्ष वरिष्ठ संघ महासभा), श्री रमेश बाबू गंधी (अध्यक्ष ग्रेटर ग्वालियर), श्री बृजेश जी घुरा (पार्षद न नि ग्वालियर), श्री मुंशीलाल डेंगरे (अध्यक्ष मुरार समाज) थे|

      लोकार्पण कार्यक्रम के प्रथम चरण में मंचासीन अथितियो द्वारा दीप प्रज्जवलित कर डॉ राष्ट्रकवि मैथिलीशरण गुप्त के चित्र पर पुष्प माल्यार्पण किया | कु. सोनम एवं कु.शिवांगी नोगरैया ने मधुर वाणी में सरस्वती वंदना प्रस्तुत की। तत पश्चात्  मंचासीन अथितियो का पुष्प माला द्वारा स्वागत किया गया। स्वागत के बाद मुख्य अथिति एवम मंचासीन अथितियो के कर कमलो से मुरार समाज की " गहोई दर्पण परिवार परिचय पत्रिका " का विधिवत विमोचन भव्यता के साथ तालियों की गड़गड़ाहट के बीच मधुर संगीत की लय पर किया गया।  
        कार्यक्रम के इसी क्रम में मुरार समाज के वरिष्ठ बुजर्गो (75 वर्ष ) से अधिक आयु के महिला एवम पुरुष कुल तेरह व्यक्तियों का माननीय जयभान सिंह पवैया एवम मंचासीन अथितियो द्वारा प्रत्येक को अभिनन्दन पत्र, शाल, श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया गया। जिसका उपस्थित जन समुदाय ने करतल ध्वनि से स्वागत किया। सम्मानित सर्व श्री किशोरी लाल बेहरे, मुन्नी लाल बेहरे,रामस्वरूप नीखरा, रमेश चन्द सुहाने, डॉ ओमप्रकाश डेंगरे, सीताराम कस्तवार, भगवान दास बिलैया, श्री मति रत्ती देवी बड़ेरिया, शांति देवी निगोतिया, विमल देवी कुरेठिया, सुशील देवी छिरोल्या, विद्धा देवी नीखरा, राम कटोरी घुरा। 
        इसी क्रम को बढ़ाते हुए मेधावी छात्राओं कु. आशा पुत्री प्रमोद सुहाने, मुरार, कु. कृपाली पुत्री रामेश्वर दयाल रावत, मुरार माननीय मंत्री द्वारा प्रशश्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। 
        उद्बोधन की श्रृंखला में राष्ट्रिय अध्यक्ष ने कहा कि मुरार समाज ने ग्रेटर ग्वालियर की सभी पंचायतो में अपनी समाज के प्रति एक विशेष स्थान बनाया है। इसके लिए मुरार समाज एवम समाज की कार्यकारिणी व उनके पदाधिकारी बधाई के पात्र है। जिन्होंने इतनी लगन और मेहनत से आज की जरुरत को देखते हुए परिचय पत्रिका बनाई इससे मुरार समाज के साथ ही अन्य समाज बंधु भी लाभान्वित होंगे।

राष्ट्रकव‍ि की पुण्यतिथि पर पुष्पांजल‍ि

ग्वालियर। राष्ट्रकवि मैथ‍िलीशरण गुप्त (दद्दा जी) की 52 वीं पुण्यतिथि‍ पर 12 दिसंबर को पुष्पांजलि समारोह का आयोजन किया गया।कार्यक्रम का आयोजन मैथ‍िलीशरण गुप्त चौराहा गुब्बारा फाटक पर हुआ कार्यक्रम की अध्यक्षता ग्वालियर ग्रेटर के अध्यक्ष श्री रमेश बाबू गंधी ने की | ‍कार्यक्रम के मुख्य अथिति अखिल भारतीय साह‍ित्य पर‍िषद के क्षेत्रीय संगठन मंत्री श्री जगदीश गुप्ता थे|

प्रमुख वक्ताओं ने अपने उद्बोधन में राष्ट्रकव‍ि गुप्त जी द्वारा साह‍ित्य‍िक उन्नत‍ि के श‍िखर तक पहॅुचने की यात्रा एवं उनके द्वारा रच‍ित साह‍ित्य से तत्समय हुए परि‍वर्तनों की जानकारी दी। कार्यक्रम संचालक अ.भा.गहोई वैश्य महासभा के राजनैतिक प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्री धर्मेंद्र बड़ेरिया ने युवाओं से आज की परिस्थि‍ति में राष्ट्रकवि गुप्त जी के द्वारा दिखाये मार्ग पर चलने का आव्हान किया। वर्ष 2017 को पूर्व मंत्री (म.प्र.) श्रीयुत लक्ष्मीनारायण गुप्त (सेठ) के सौवें वर्ष में प्रवेश के उपलक्ष्य में राजनैतिक चेतना वर्ष के रूप में मनाए जाने की जानकारी दी। कार्यक्रम में व‍िश‍िष्ट अत‍िथ‍ि श्री राधेश्याम सेठ मंत्री महासभा, श्री सुधीर पहारिया पूर्व नेता प्रतिपक्ष नगर निगम, श्री ओमप्रकाश डेंगरे, श्री राधेश्याम कुचिया (निवर्तमान राष्ट्रीय अध्यक्ष महासभा), कार्यक्रम में भा.ज.पा. मण्डल उपाध्यक्ष श्री मोहन छिरोल्या, कार्यक्रम संयोजक श्री राकेश कनकने, मीडिया जगत से श्री गोपाल गुप्ता, श्री रूपेश खंताल,, श्री सुधीर रावत, श्री ओमप्रकाश कंथरि‍या, श्री जितेंद्र बिलैया, श्री मलय जी, श्री रमेश सेठ, डॉ. ओमप्रकाश गुप्ता, श्री सुशील सोनी बंटी, श्री मनीष बड़ेरिया, श्री अरूण बिलैया, श्री मुकेश तीतबिलसी, श्री स्वराज सेठ, श्री सियाराम निगोती, पार्षद श्री बाबूलाल जी चौरसिया, श्री आर.के.गुप्ता, श्री अनि‍ल सेठ, श्री महादेव नीखरा, श्री वरूण कस्तवार, श्री परमेश्वर नीखरा, श्री बद्रीप्रसाद चौदहा सहि‍त अनेक गण्मान्य जन एवं स्वजातीय जन उपस्थि‍त रहे। आभार प्रदर्शन ग्वालियर ग्रेटर के मंत्री श्री रामप्रकाश सोनी ने किया।

राष्ट्रकव‍ि की पुण्यतिथि पर पुष्पांजल‍ि

जबलपुर। नगर की साह‍ित्यिक सामाज‍िक संस्था श्री गहोई युवा मंच ने राष्ट्रकवि मैथ‍िलीशरण गुप्त (दद्दा जी) की 52 वीं पुण्यतिथि‍ 12 दिसंबर पर मानस भवन के समीप राष्ट्रकव‍ि मैथ‍िलीशरण गुप्त चौक पर स्थाप‍ित मूर्त‍ि पर पुष्प माल्यार्पण कर गुप्त जी के राष्ट्र निर्माण में अकथनीय योगदान का स्मरण किया। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, राज्यसभा सदस्य श्री गुप्त जी की साहि‍त्य साधना ने इतिहास के उपेक्ष‍ित पात्रों को उच‍ित स्थान देने का प्रयास किया। राष्ट्रकव‍ि मैथ‍िलीशरण अमर रहे, गुप्त जी की जयकार के स्वरों से चौक गुंजायमान हो गया। कार्यक्रम का आयोजन संस्थापक श्री के.के.सुहाने एवं सुभाष ब‍िलैया के नेतृत्व में कि‍या गया।   

  • सतीश सेठ, जबलपुर

महाकौशल में मण्डला पंचायत के चुनाव संपन्न

मण्डला। श्री गहोई वैश्य समाज पंचायत की बैठक गहोई धर्मशाला में 10 दिसंबर को अपरान्ह 3.00 बजे से आयोजित की गई जिसमें कार्यकारिणी का चुनाव किया जाना था, इस हेतु सभी पंचों को आवश्यक रूप से उपस्थ‍ित रहने हेतु अनुरोध किया गया। सम्माननीय स्वजातीय प्रतिनिध‍ियों की गरिमामयी उपस्थ‍िति में चुनाव संपन्न हुए जिसमें एडवोकेट श्री अनिल बडोनिया जी को पंचायत का अध्यक्ष निर्वाचित घोषि‍त किया गया। उपाध्यक्ष पद पर श्री राजेश रावत, सच‍िव पद पर श्री जितेंद्र बिलैया, कोषाध्यक्ष पद पर श्री गोपाल चौदहा,सह सचिव पद पर डॉ राजेश हुँका एवं कोठारी पद पर श्री मुकेश तीतबिरासी जी को निर्वाचित घोषित किया गया।

विदित हो कि वर्तमान में श्री अनिल बड़ोनिया महाकौशल क्षेत्रीय गहोई वैश्य सभा में उपमंत्री एवं पूर्व में महाकौशल के पंद्रह सूत्रीय संयोजक के रूप में कार्य कर चुके हैं। आपके सराहनीय प्रयासों से ही श्रीमती कमलाबाई गुलाबचंद रावत ने मण्डला में गहोई धर्मशाला हेतु अपना मकान गहोई समाज को दान में दिया था, तब आप गहोई वैश्य नवयुवक मण्डल - मण्डला के अध्यक्ष थे।

सभी निर्वाचित पदाधिकारियों को उपस्थित समाजसेव‍ियों ने हार्द‍िक शुभकामनाऐं दीं। गाडरवारा से डॉ. बैजनाथ प्रसाद नगरिया पूर्व महासभा अध्यक्ष, श्री शरद कठल, श्री शि‍वकुमार नीखरा, श्री बसंत तपा, श्री उमाकांत बरसैंया, श्री रामगोपाल बजाज, श्री कृष्णगोपाल आजाद तीतबिरासी, करेली से श्री राजेंद्र बृजपुरिया, पिपरिया से श्री प्रशांत कंथरिया, कटनी से श्री विनोद त्रिसोलिया, श्री शैलेंद्र लहारिया, श्री दयाशंकर कनकने, श्री विष्णू प्रसाद सेठ, मझगवॉ से श्री रघुनाथ बेहरे, शैलेंद्र सरावगी, किशोर कुमार सेठ, ड‍िण्डोरी से श्री अयोध्या प्रसाद बिलैया, नरसि‍हपुर से श्री रमाकांत बिलैया, श्री अशोक मरेले जबलपुर से श्री सतीश सेठ, श्री कृष्णदास बरसैंया, श्री सुभाष रावत, एड. उत्तमचंद बिलैया, श्री श्यामबिहारी चौदहा, जुन्नारदेव से श्री अनिल खरया, देवरीकलॉ से श्री विनोद तीतबिरासी, सिहोरा से श्री अन‍िल कनकने, श्री सुधीर नौगरहिया, श्री हर‍िलाल सोनी, सागर से श्री बृजकिशोर रूसि‍या, रहली से श्री सचेन्द्र बृजपुरिया, ओंकार सराफ, उमाशंकर सराफ की ओर से समाजसेवा के क्षेत्र में सराहनीय कार्यों को करने हेतु तत्पर लगनशील कर्मठ निर्वाचित पदाधिकारियों की टीम को बधाई।                                 

  • सतीश सेठ: जबलपुर, संगठन मंत्री अ.भा.गहोई वैश्य महासभा

गहोई वैश्य समाज जबलपुर की जन गड़ना पत्रिका " दर्पण 2016" का विमोचन संपन्न हुआ

27 नवंबर। गहोई वैश्य पंचायती भवन धर्मशाला छोटा फुहारा जबलपुर में जबलपुर एवं उपनगरीय क्षेत्रों महाराजपुर , पनागर,  रांक्षी, बिलहरी, बरगी आदि में निवास करने वाले गहोई परिवारों की जनगणना का महत्व पूर्ण कार्य पंचायत द्वारा अत्यन्त सीमित समय में पूर्ण किया गया। पंचायत के अध्यक्ष श्री विजय सुहाने ने इस कार्य मे परिवारों की उम्र /जन्म तिथि, आंकने,गौत्र के साथ पता, मोबाईल नंबर , ब्लड ग्रुप सहित पूरी जानकारी संकलित कर प्रकाशित करने में अन्य संस्थायों के विज्ञापन दाताओं के सहयोग को सराहीन बताते हुए अपने कार्यकाल की उपलब्धियों का श्रेय सभी सहयोगी बंधुओं को दिया।मंच पर उपस्थित पूर्व अध्यक्ष गोपाल दास नीखरा , श्री श्री कृष्ण दास वरसैया, श्री सुनील कुरेले द्वारा दर्पण 2016 का विमोचन किया गया।साथ में उपाध्यक्ष श्री श्याम बिहारी चौदहा, मंत्री निर्मल सुहाने व नवयुवक मण्डल, महिला मण्डल की अदाधिकारी तथा अन्य व्विशिष्ट जन उपस्थित थे।मंच संचालन श्री रविकांत रावत ने किया ।इस अवसर पर मनमोहक सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये गए।कार्यक्रम में अनेक गणमान्य स्वजातीय बन्धु उपस्थित रहे।

सतीश सेठ , जबलपुर
संगठन मंत्री- अ. भा. ग. वैश्य महासभा 

श्रीमद् भागवत पारायण ज्ञानयज्ञ महोत्सव, 2 नवम्बर से 9 नवम्बर तक

गहोई वैश्य समाज के कल्याण एवं प्राकृतिक आपदाओं के निवारण तथा पितरो को मोक्ष प्रदान हेतु |
               गहोई वैश्य समाज आध्यात्मिक आयोजन समिति, ग्वालियर  द्वारा 
                                                   21 यजमानो के साथ 
           श्रीमद् भागवत पारायण ज्ञानयज्ञ महोत्सव 
दिन्नांक - 2 नवम्बर से 9 नवम्बर तक      स्थान - कालीपीठ संस्थान, तीर्थ नैमिषारण्य,जिला -सीतापुर (उ प्र)
समस्त गहोई बंधुओ को सूचित करते हुए अत्यंत प्रशन्नता हो रही है कि परम पिता परमात्मा श्री कृष्ण के अपार अनुग्रह एवं दन्दरोआ सरकार के शुभाशीर्वाद से|परम पावनी आदि गंगा गोमती के समीप,परम पावन श्री क्षेत्र नैमिषारण्य तीर्थ धाम में स्थिति "कालीपीठ " में आप परम पूज्य पं. बृजेश जी शास्त्री (वृन्दावन धाम ) के मुखार विंद से सुमधुर वाणी द्वारा  मदभागवत ज्ञान गंगा का रसमय अमृतपान करेंगे |
     अतः गहोई समाज के सभी भक्त जनों से सादर अनुरोध है कि अधिक से अधिक संख्या में "श्रोता " बनकर यह आलोकिक -आधिदैविक व धार्मिक लाभ प्राप्त करे | येसा शुभ अवसर बार -बार नहीं आता |
तीर्थ नैमिषारण्य में भागवत कथा श्रवण करने का महात्म,
88000 ऋषि मुनियों की राजधानी एवं भारतीय सनातन संस्कृति का उदगम स्थल नैमिषारण्य तीर्थ धाम अनादिकाल से ऋषि मुनियों की तपस्या का केंद्र रहा है | इसी धरती पर 4 वेद ,6 शास्त्र तथा 18 पुराणों की रचना की गई |इस भूमि पर किया हुआ प्रत्येक कर्म अक्षय हो जाता है | इसी पवित्र भूमि पर जगद गुरु श्रीमद वल्लभाचार्य जी ने गोमती नदी के तट पर श्रीमद भागवत का पारायण किया | हिन्दू धर्म की सभी कथाओ का जन्म ही नैमिष तीर्थ से ही हुआ है | चाहे वह राम कथा हो या कृष्ण जी की कथा, सत्यनारायण कथा हो या 18 पुराणों की कथा | इस तीर्थ में मुझे जाना है यह संकल्प उठाते ही आधे पाप नष्ट हो जाते है प्रवेश करने पर सम्पूर्ण पाप नष्ट हो जाते है | इस तीर्थ में अति शीघ्र मनोकामनाये एवं सिद्धियाँ प्राप्त होती है | येसे पवित्र नैमिष तीर्थ में लोकिक - अलोकिक परमानन्द का अनुभव कैसे प्राप्त होगा उसका अनुभव तो आप आकर ही प्राप्त कर सकते है |
मद भगत कथा ज्ञान यज्ञ में श्रोता बने ---
इस मद भगत कथा ज्ञान यज्ञ में श्रोता बनकर पुण्य एवं यश के भागी बने | संख्या मर्यादित (सीमित) है | सीघ्र संपर्क करे 
मोबाईल नंबर - 9425114006, 9425116791,9425109934,<wbr>9039453639
श्रोताओ से सहयोग राशि मात्र रुपये 3100/= सुविधाए - ग्वालियर से जाना एवं आना , ठहरना एवं भोजन व्यवस्था (प्रति व्यक्ति)
श्रोताओ से सहयोग राशि मात्र रुपये 2500/=  स्वयं का जाना -आना ,सुविधाए - ठहरना एवं भोजन व्यवस्था  (प्रति व्यक्ति)
 भागवत कथा के यजमान :-
1. श्री दिनकर कान्त बिलैया, ग्वालियर (संयोजक) 2. श्री राधेश्याम कुचिया ,ग्वालियर 3. श्री ओमप्रकाश सेठ (दाऊ) ग्वालियर 4. श्री रमेश बाबू गंधी ,ग्वालियर 5.श्री सुरेश चंद लहारिया, ग्वालियर 6.श्री पुरुषोत्तम दास पोद्दार, इन्दरगढ 7.श्री जीवन लाल इटोरिया, इन्दरगढ 8.श्री केशव नीखरा, डबरा 9.श्री गिरीश कुमार कनकने, डबरा  10. श्री हरी शंकर निगोती, पिछोर (शिवपुरी) 11.श्री ओमप्रकाश लहारिया , ग्वालियर 12. श्री महेश कुमार कुरेले, ग्वालियर 13. श्री राकेश कुमार कुचिया, डबरा 14. श्री रमेश चंद बरसैया , छतरपुर 15. श्रीमती विमला रावत, भिण्ड 16. श्रीमती राम बाई नोगारैया, ग्वालियर 17.श्री मती कुसुम गंधी, ग्वालियर 18. श्री अशोक कुमार सेठ, अशोक नगर 19. श्री आशाराम कुचिया, सेवडा 20. रामेश्वर दयाल रूसिया ,ग्वालियर 21.डॉ रमेश बाबू लहारिया, ग्वालियर 
प्रेषक -
रमेश बाबू गंधी

गहोई धर्मशाला (सत्संग भवन) का भूमिपूजन समारोह

            मझगवॉ (स‍िहोरा) । अ.भा.गहोई वैश्य महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कैलाशनारायण सावला-ग्वालियर की ऐतिहासिक उपस्थिति में गहोई वैश्य समाज पंचायत मझगवॉ में सामाजिक सत्संग भवन गहोई धर्मशाला का भूमिपूजन समारोह राष्ट्रीय महासभा, महाकौशल क्षेत्रीय सभा व जबलपुर, कटनी, सिहोरा, खि‍तौला, करेली, गोटेगॉव, गाडरवारा, नरसिंहपुर से पधारे सम्माननीय पदाधि‍कारियों व अतिथ‍िजनों के सान्न‍िध्य में गरिमापूर्ण आयोजन के रूप में संपन्न हुआ।

मंगलकलशों का पूजन एवं पुष्पवर्षा कर महाकौशल क्षेत्रीय सभा के अध्यक्ष श्री विनोद त्रिसोल्या एवं श‍िवकुमार नीखरा, श्री रमेशचंद्र ब्रि‍जपुर‍िया जी द्वारा श्री महादेव जुटटा मंदिर से प्रारंभ कर भूमिपूजन स्थल तक बाजेगाजे के साथ महिला मंडल के पदाधि‍कारि‍यों श्रीमति रचना नीखरा, श्रीमति पुष्पा मोर, श्रीमती संध्या सेठ, श्रीमती उर्म‍िला चौदहा, श्रीमति रूक्मणी सेठ, श्रीमती अंजना सेठ, श्रीमती उषा कनकने, श्रीमती मंजू सरावगी, श्रीमती नीलम बहरे आदि के मार्गदर्शन में शोभायात्रा निकाली गई जिसमें स्थानीय पंचायत के संरक्षक एवं सभी पदाधि‍कारी व सामाजिक बंधु उत्साह पूर्वक जयकारा लगाते हुए शामिल हुए।

पंचायत के अध्यक्ष श्री रघुनाथ बहरे के सहयोग से भूमिपूजन स्थल का रिबन काटकर राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री सावला जी के द्वारा पर अ.भा.गहोई वैश्य महासभा की वरि‍ष्ठ उपाध्यक्ष श्रीमती पुष्पा ददरया- जबलपुर, भा.ज.पा महिला मोर्चा की प्रदेश उपाध्यक्ष श्रीमती डॉ. शोभना श्रीकृष्ण बिलैया- जबलपुर, महाकौशल क्षेत्रीय सभा के अध्यक्ष श्री विनोद त्रिसोल्या- कटनी, शिवकुमार नीखरा- गाडरवारा, रमेश चंद्र ब्रिजपुरिया-सिहोरा, राष्ट्रीय संगठन मंत्री सतीश सेठ, अ.भा.श‍िक्षा प्रसार समिति के अध्यक्ष इंजी.श्रीकांत कस्तवार- जबलपुर, इंजी. श्रीकृष्णदास बरसैंया, श्री शंभूदयाल बडे़रिया, श्री विजय सुहाने, डॉ.गोविंददास बरसैंया (एड.), अ.भा.मह‍िला सभा की पूर्व कोषाध्यक्ष श्रीमती कृष्णा सरावगी- ख‍ितौला सह‍ित आमंत्रि‍त सभी गणमान्य अत‍िथ‍ियों द्वारा शंखध्वनि व मंगलाचरण के बीच धर्मशाला का भूमि पूजन किया गया। इस अवसर पर मझगवॉ पंचायत के स्वागताध्यक्ष श्री किशोर सेठ, उपाध्यक्ष श्री राजेश बिलैया, सच‍िव श्री आनंद नीखरा, कोषाध्यक्ष श्री बालगोविंद कनकने, उपकोषाध्यक्ष श्री विजय नीखरा, श्री टेकचंद मोर, श्री मदनमोहन नीखरा, रामब‍िहारी नीखरा, अम‍ित चौदहा, मनीष ब्रिजपुरि‍या ने सभी अतिथि‍यों को बैज लगाकर हल्दी रोरी का चंदन तिलक से स्वागत कर गहोई वैश्य समाज पंचायत मझगवॉ का अतिथि‍ दुपट्टा पहनाकर अभ‍िनंदन किया व स्वल्पाहार की व्यवस्था में सहयोग किया। इसके पश्चात शोभायात्रा प्राचीन ऐतिहास‍िक जगदीश स्वामी मंद‍िर के दर्शन के बाद राजदरबार आयोजन स्थल पहॅुची।

राजदरबार में ध्वजारोहण के साथ अ.भा.गहोई वैश्य महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कैलाश नारायण सावला सहि‍त मुख्य अत‍िथ‍ियों को मंचासीन कराया गया तथा सूर्य भगवान, जगदीश स्वामी, मॉ सरस्वती व राष्ट्रकव‍ि मैथ‍िलीशरण गुप्त जी के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर पूजन माल्यार्पण किया गया। अतिथ‍ि अभि‍नंदन स्वागत श्री मोहनलाल सरावगी, श्री हल्केराम मोर, श्री मदन सरावगी,श्री रामेश्वर प्रसाद कनकने, श्री कन्हैयालाल मोर, श्री गोविंद नीखरा, श्री बद्रीप्रसाद सुपेल्हा, श्री आनंद नीखरा, श्री सुशील सरावगी, श्री राजा सरावगी, श्री रामाधार मोर, शांतिभूषण सेठ, सुदामाचरण सेठ, राजेश नीखरा द्वारा किया गया।  अध्यक्षीय उदबोधन में अध्यक्ष श्री रघुनाथ बहरे ने धर्मशाला की 6000 वर्गफुट भूमि अल्पमूल्य में प्रदान करने हेतु स्व. गंगाप्रसाद बिलैया कचनारी वालों का एवं स्व. श्री रामलाल सेठ के प्रयासों का स्मरण किया तथा उदारमना समाजसेवी बंधुओं से धर्मशाला निर्माण में अपना मार्गदर्शन व अपेक्ष‍ित सहयोग देने का अनुरोध किया। महाकौशल क्षेत्रीय सभा के अध्यक्ष श्री विनोद त्रिसोलया ने आमंत्रि‍त अतिथि‍यों का महाकौशल क्षेत्रीय सभा की ओर से अभ‍िनंदन करते हुए मझगवॉ पंचायत को वर्ष 2016 की सर्वश्रेष्ठ पंचायत की घोषणा कर अध्यक्ष श्री रघुनाथ बहरे को पदाधि‍कारि‍यों समेत सम्मान‍ित किया और धर्मशाला निर्माण हेतु महाकौशल क्षेत्रीय गहोई वैश्य सभा की ओर से शुभकामना के साथ नगद रू. 21000/- प्रदान किये, श्री शंकरलाल सेठ- श्री कैलाशचंद सेठ, श्री राधेश्याम सेठ, श्री गोविंद नीखरा श्री बद्रीप्रसाद सुपेल्हा का शाल श्रीफल एवं पुष्पमाला पहनाकर महाकौशल की ओर से अभ‍िनंदन किया। श्रीमती पुष्पा ददरया ने मझगवॉ पंचायत के धर्मशाला निर्माण कार्य को साहसी एवं प्रगति का द्योतक बताया, डॉ. श्रीमती शोभना श्रीकृष्ण ब‍िलैया ने अपने उदबोधन में प्रेम का महत्व बताते हुए आपस में प्रेम बनाकर इस निर्माण को ऐतिहासिक बताया तथा स्वयं को मझगवॉ की बहू होने का सौभाग्यशाली रिश्ता होने का स्मरण दिलाया तथा रू. 51000/- इस कार्य में सहयोग राश‍ि देने की घोषणा की। सभी ने ताली बजाकर सराहना की। राष्ट्रीय अध्यक्ष जी ने महासभा की ओर से उम्मीद से ज्यादा सहयोग का आश्वासन दिया तथा सभी का आर्थ‍िक सहयोग हेतु आव्हान किया । श्री फूलचंद सेठ ने जगदीश मंद‍िर के इतिहास पर विस्तार से प्रकाश डाला तथा अपनी ओर से तथा गहोई संस्कार के माध्यम से और वरिष्ठ संघ जबलपुर की ओर से अध‍िक से अध‍िक सहयोग देने का वादा किया। श्री उत्तमचंद बिलैया एड. ने मझगवॉ पंचायत द्वारा अतिथ‍ि के रूप में आमंत्रि‍त करके इस कार्यक्रम का साक्षी बनाया इस हेतु धन्यवाद व्यक्त किया। इंजी. श्रीकांत कस्तवार ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए धर्मशाला के पुनीत कार्य में सहयोग करने हेतु प्रेरित किया। कि  बताया कु.साक्षी नीखरा, स्वप्न‍िल सेठ ने मनमोहक नृत्य प्रस्तुत कर प्रोत्साहन राश‍ि प्राप्त की। याद दिलाते हुए सभी स्वजातीय परिवारों के सहयोग की अपील की।

इस कार्यक्रम में पधारे प्रमुख अतिथ‍ि जनों सह‍ित सम्माननीय अतिथि‍ श्री डॉ. श्रीकृष्ण बिलैया, श्री कैलाशनाथ मोर, श्री शैलेंद्र लहारिया, श्री सुभाषचंद रावत, श्री रमाकांत बिलैया, इंजी. रमेशचंद बरसैंया, रामगोपाल ददरया, श्री अन‍िल कनकने, श्री हरिलाल सोनी, श्री ओंकार प्रसाद सेठ, श्री कमलेश रावत, श्री सतीश बड़ौन्या, श्री गोविंद कनकने, एड. रविचरण नौगरहिया, श्री मुन्ना नेता सेठ, श्री रामशरण सेठ, श्री विष्णूप्रसाद सेठ, श्री सुघरलाल कनकने, श्री ललित सेठ, श्री प्रकाश पहारिया, श्री राकेश सिजारिया, श्री सूर्यनारायण सरावगी, श्री रामनारायण पहारिया, श्री नंदकिशोर नीखरा आदि का स्मृतिचिन्ह के रूप में श्री जगदीश धाम मझगवॉ का मनमोहक चित्र भेंट कर मझगवॉ पंचायत की ओर से सम्मानित किया गया । कार्यक्रम को सफल बनाने में श्री संजय सुधीर सेठ, अम‍ित चौदहा, श्री सेठू बिलैया, संदीप ब्रिजपुर‍िया, उमेश, दीपचंद ब्रिजपुर‍िया, श्री श्यामसुंदर सेठ, श्री अशोक सेठ, श्री प्रदीप सेठ, सोनू सरावगी, अभय सरावगी, सुभाष नीखरा, तिलक चंद सेठ, शि‍वम सेठ के सहयोग हेतु श्री आनंद नीखरा ने धन्यवाद व्यक्त किया एवं दूर दूर से मझगवॉ पंचायत के आमंत्रण पर पधारे अतिथि‍यों के प्रति एवं कार्यक्रम संचालन हेतु सतीश सेठ के प्रति आभार व्यक्त किया

                                        प्रेषक : सतीश सेठ, राष्ट्रीय संगठन मंत्री अ.भा.गहोई वैश्य

महासभा

गहोई वैश्य समाज महिला मण्डल डबरा में निर्विरोध अध्यक्ष बनी पुष्पा सरावगी

डबरा - 18 जून 2016 को श्री गहोई वैश्य समाज महिला मण्डल डबरा के त्रिवर्षीय चुनाव शनिवार को चुनाव अधिकारी श्री विनोद खांगट की देख रेख किये गए | गहोई वैश्य धर्मशाला में आयोजित चुनाव में श्रीमती पुष्पा सरावगी को अध्यक्ष पद पर निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया | इसके अलावा 20 कार्यकारिणी सदस्य निर्वाचित घोषित किये गए | 
     श्री गहोई वैश्य महिला मण्डल के निर्वाचित कार्यकारिणी सदस्यों में किरण निगोती, सीमा नीखरा, इंद्रा नीखरा, शोभा नीखरा, संतोष पहारिया, मीना मिसुरिया, आरती पिपरसेनिया, रजनी पहरिया, सुखदेवी नीखरा, गायत्री तीतविलासी, रचना सेठ, सुनीता सोनी, मीरा नीखरा, प्रेरणा नोगरैया, रेखा नीखरा, प्रभा तीतविलासी, भारती कुचिया, ममता कुचिया, मीना सरावगी शामिल है|
   साभार 
गहोई समाज मंच