Suggestion

पुनीत
22-02-2020

मेरे प्रिय साथियों आपका प्यार, साथ, सहयोग एवं आशीर्वाद रंग लाया है। आपका साथी रेलवे के ईसीसी चुनाव को भारी बहुमत से जीत गया है। यह जीत मेरी नहीं आपकी जीत है। इस चुनाव में मैं प्रत्याशी नहीं था, आप प्रत्याशी थे। यह जीत असत्य पर सत्य की है, जिसमें आपने मेरा साथ दिया, मैं आपका जीवन पर्यंत आभारी रहूंगा एवं वादा करता हूं कि मैं अपने कर्तव्य का पालन लगनशीलता, कर्तव्यनिष्ठा से बिना किसी भेदभाव व द्वेष के ईमानदारी से निभाऊँगा। आपका पुनीत कुमार गुप्ता ईसीसी सोसाइटी डेलीगेट झांसी।🚩🚩🚩🚩🚩🚩🙏🙏🙏🇮🇳🇮🇳🇮🇳

Reply :

www.gahoi.co.in की तरफ से आप को बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाएं